लिंग खिलौना क्या है? , लिंग खिलोने के प्रकार, उपयोग, रबर के लिंग छल्ले और कम्पन लिंग छल्ले इस्तेमाल,ऑनलाइन भारतीय बाजार में लिंग खिलोने|

भारतीय यौन खिलौने के साथ दैनिक उत्तेजना

लिंग खिलौना क्या है?

गुदा मैथुन क्या है?

सम्भोग का आनंद सभी लेते है अलह -अलग सम्भोग क्रिया कर के लोग सेक्स का आनंद प्राप्त करते है। सेक्स का आनंद जब दोनों साथी की इच्छा और पुरुष जोश के साथ सेक्स करता है तो दोनों साथी को सेक्स का भरपूर आनंद लेते है। परन्तु कई पुरुषो के लम्बे समय तक सेक्स नहीं कर पाते, कई के जल्दी रस्खलन होने की समस्या होती है। इस कारण उनका साथी उनसे सेक्स में संतुष्ट नहीं हो पता है। सेक्स का आनंद लेने के लिए पुरुष लिंग छल्ले का उपयोग कर अपनी समस्या को दूर कर साथी को को सेक्स का सुख दे सकते है। लिंग छल्ले सेक्स खिलोनेहोते है जो पुरुषो के लिंग पर पहनने जाते है यह रिंग छल्ले होते है जो लिंग पर पहने के बाद लिंग को मजबूत करते है और लम्बे समय तक सेक्स करने में मदद करते है।

लिंग खिलोने कई प्रकार के होते है इनका उपयोग कोई भी पुरुष कर सकता है सेक्स को और अधिक लम्बे समय तक करना चाहते है तो लिंग खिलोने की मदद ले सकते है। और जोश के साथ अपने साथी के साथ कर सकते है।

लिंग खिलोने के प्रकार

लिंग खिलोने के प्रकार

सेक्स खिलोने का निर्माण सेक्स का आनंद बढ़ने के लिए किया गया है सेक्स खिलोनो का उपयोग अकेले और साथी के साथ भी कर सकते है। सेक्स खिलोने विभिन्न प्रकार के होते है यह सभी लोगो के लिए होते है, महिलाओं के सेक्स खिलोनेअधिकतर लिंग के आकर के होते है। पुरुषो के खिलोने कई तरह के होते है जैसे लिंग खिलोने, मस्टबूटेर, लिंग आस्तीन खिलोने, गुदा खिलोनेआदि कई खिलोने होते है।

लिंग खिलोने भी कई प्रकार के होते है- कॉक रिंग , लेदर कॉक रिंग, सिल्वर कॉक रिंग, इतियादी इनमे भी बड़े -छोटे आकर होते पुरुष अपने लिंग के आकर अनुसार इनका उपयोग कर सकते है।

कॉक रिंग

यह छल्लेनुमा आकर की रिंग होती है पुरुष अपने लिंग के आकर अनुसार इस्तेमाल कर कर सकते है यह लिंग को मजबूती प्रदान करता है और कठोर करने में मदद करता है।

सिलकॉन वाइब्रेट कॉक रिंग

यह आम कॉक रिंग से मजबूत और बड़ा होता है इसे महिलाये उत्तेजित होती है इसका असर लिंग पर पहनने के बाद से ही हो जाता है।

सिल्वर कॉक रिंग

यह सिल्वर के बने होते है यह काफी कठोर होते है लिंग में पहनने के बाद लिंग पर अच्छी पकड़ बनाये रखता है। इसे महिलाओं को भी बहुत आनंद आता है यह योनि में जाकर घर्षण पेद्दा करता है जिसे महिलाये उत्तेजित होती है।

लेदर कॉक रिंग

यह चमड़े के बने हुए होते है इसे आसनी से लिंग पहना और उतरा जा सकता है यह पसीने को सूखता है।

लिंग खिलोनो का उपयोग

लिंग खिलोनो का उपयोग

लिंग छल्ले खिलोनो का उपयोग कई तरह से होता है अलग अलग प्रकार के खिलोने होते है जैसे रबर के लिंग खिलोने, सिल्वर के लिंग खिलोने, प्लास्टिक के लिंग खिलोने, कम्पन्न लिंग खिलोने आदि। यह छल्ले लिंग में पहने के काम आते है जिनके उपयोग करने के तरिके भी अलग-अलग होते है। लिंग खिलोने पुरुष लिंग पर पहने जाते है। जिनका असर पहन के बाद से शुरू होता है। सेक्स क्रिया के दौरान लिंग छल्ले को पर पहन लेना चाहिए इसे पुरुषो की उत्तेजना बढ़ती है और लम्बे समय तक सेक्स क्रिया कर आनंद लेते है। यह रस्खलन को देर तक रोकने में मदद करता है। और महिलाओं की उत्तेजना को बढ़ता है जिसे महिलाये सेक्स की इच्छा से संतुष्ट होती है।

रबर के लिंग छल्ले और उनका इस्तेमाल

रबर के लिंग छल्ले और उनका इस्तेमाल

रबर के रिंग छल्ले पुरषो के लिंग पर पहनने जाते है यह लिंग आकार देने और उपयोग करने के लिए अच्छा है। रबर के छल्ले शुरुआती के लिए आदर्श हैं। यह लिंग पर आसानी से फिट हो जाते है, और उन्हें हटाने में आसानी होती है। पुरुषों को खिंचाव के छल्ले खरीदना चाहिए रबर के छल्ले आकर में थोड़े छोटे होते है। रबर के छले कई तरह के आकर आकर्तियों के बने हुए होते है मोठे - पतले रंग बिरंग होते है पुरुष इसे अपने इच्छा अनुसार ले सकता है और उपयोग में ले सकता है यह लिंग पर कसाव करते है है जिसे लिंग टाइट रहता है। इसे लम्बे समय तक सेक्स किया जा सकता है। समलिंग जोड़ेभी इसका उपयोग सेक्स क्रिया कर सुख प्राप्त कर सकते है।

कम्पन लिंग छल्ले और उनका इस्तेमाल

कम्पन लिंग छल्ले और उनका इस्तेमाल

लिंग खिलोनो का उपयोग कई तरह से होता है अलग अलग प्रकार के खिलोने होते है जैसे रबर के लिंग खिलोने, सिल्वर के लिंग खिलोने, प्लास्टिक के लिंग खिलोने, कम्पन्न लिंग खिलोने आदि। यह छले लिंग में पहने के काम आते है जिनके उपयोग करने के तरिके भी अलग-अलग होते है। लिंग खिलोने पुरुष लिंग पर पहने जाते है। जिनका असर पहन के बाद से शुरू होता है।आम तौर पर लिंग के आधार पर पहना जाता है। उन्हें लिंग के सिर के नीचे या लिंग के बीच में भी पहना जा सकता है। कुछ पुरुष अपनी गेंदों और उनके लिंग के चारों ओर मुर्गा के छल्ले पहनते हैं।लिंग के छल्ले कई प्रकार के होते है कुछ साधारण भी होते है कुछ कठोर भी होते है और कुछ छल्ले ऐसे भी होते जिनसे लिंग पर कम्पन्न पैदा होता है।कम्पन्न होने महिला पुरुष दोनों सेक्स के समय उत्तजित होते है इसे पुरुषो के साथ साथ महिला भी प्रसन्न रहती है। कम्पन्न रिंग छल्ले में कम्पन्न होता है जिसका असर लिंग पर पहनने के बाद से शुरू हो जाता है। यह लम्बे समय तक लिंग को टाइट रखने में मदद करता है। कम्पन्न होने की वजह से महिलाये भी अधिक उत्तजित होती है ।और सेक्स का सुख लेती है जिन पुरुषो से उनकी महिला साथी सेक्स दौरान संतुष्ट नहीं होती है उन पुरुषो के कम्पन्न छल्ले का उपयोग बहुत लाभ का काम करता है |

सम्भोग के समय इस्तेमाल होने वाले लिंग छल्ले और लिंग आस्तीन

सम्भोग के समय इस्तेमाल होने वाले लिंग छल्ले और लिंग आस्तीन

सम्भोग करते समय कई बार महिला पुरुष सम्भोग का आनंद नहीं ले पाते कई महिलाये अपने पुरुष साथी के साथ सम्भोग क्रिया दौरान खुश नहीं हो पाती है ।उनकी सेक्स की इच्छा पूरी नहीं हो पाती कई पुरुष लम्बे समय तक सेक्स को नहीं कर पाते महिला साथी सेक्स के दौरान जो चाहती है वो नहीं प्राप्त कर पाती। लिंग छल्ले पुरुषो को लम्बे समय तक सेक्स करने में मदद करते है। पुरुषो के लिंग में कमी होने के कारण उनसे उनका साथी खुश नहीं हो पता। कई पुरुषो के लिंग छोटे होते है तो कई के पतले लिंग में कमी होने के कारण वह सेक्स क्रिया को सही ढंग से नहीं कर पाते जिस कारण उनकी महिला साथी उनसे नाखुश होती है। जिन पुरुषो के लिंग में कमी होती उनके लिए लिंग आस्तीन खिलोनो का उपयोग करना कोई चमत्कार से काम नहीं है। इससे वह अपने लिंग की कमी को दूर कर सेक्स क्रिया आनंद ले सकते है, और अपनी महिला साथी को भी संतुष्ट कर सकते है। जिन पुरुषो के लिंग छोटे है वह अपने लिंग के अनुसार लिंग आस्तीन खिलौना लिंग पर पहन कर महिला के साथ सेक्स क्रिया कर सेक्स आनंद प्राप्त कर सकते लिंग आस्तीन खिलोने को लिंग में पहने के बाद लिंग बदलाव आ जाते है जिसे महिलाओं की सेक्स की उत्तेजना भी बढ़ती और वह सेक्स का सुख प्राप्त करती है।

ऑनलाइन भारतीय बाजार में लिंग खिलोने

ऑनलाइन भारतीय बाजार में लिंग खिलोने

भारत में सेक्स को और सेक्स से संबंधित चीजों को गलत मना जाता है। भारत में सेक्स के बारे में कोई भी खुलकर बात नहीं करता। सेक्स के बारे में अगर कोई बात भी करता है तो उसे गलत नजरिये से देखा जाता है। भारत में खिलोनोका इतिहास काफी पुराना है परन्तु फिर सेक्स खिलोनो पर प्रतिबंध लगा हुआ है,परन्तु फिर लोग सेक्स खिलोनो को खरीदते है और इस्तेमाल करते है। भारतीय लोग शर्मीले किस्म के होते है। लोग सेक्स खिलोनो का इस्तेमाल तो करते है परन्तु उन्हें खिलोने खरीदे समय शर्म महसूस होती है। वे लोग चोरी छिपे खिलोने खरीदते है।दिल्ली के पालिका बाजार और मुंबई के क्राफर्ड मार्केट या मनीष मार्केट जैसे कुछ इलाकों में इस तरह के सामान चोरी छिपे बेचे जाते हैं. भारत में सेक्स खिलोने सरे आम दुकानों बाजारों में नहीं मिलते है। परन्तु भारत में कई शहरों में सेक्स खिलोने उपलब्ध होते है। भारत में में कई शहरों में जापान ,चीन ,अमेरिका आदि के बने हुए सेक्स खिलोने बचे जाते है। भारत में सेक्स खिलोने अधिक्तर ऑनलाइन, ई कॉमर्स वेबसाइटों से खिरीदना पसंद करते है। लोग बिना किसी पहचान के इसे खरीद सकते है जिन्हे बिना किसी शर्मिन्दिगी के खरीद सकते है।