कंडोम क्या है?कंडोम के प्रकार?सेक्स खिलोनो का उपयोग? कंडोम के फायदे व सावधानिया?

भारतीय यौन खिलौने के साथ दैनिक उत्तेजना

कंडोम क्या है

कंडोम क्या है

कंडोम रबड़ का बना हुआ पाउच होता है, जिसे पुरुष लिंग पर पहना जाता है यह वीर्य को योनि में जाने से रोकता है। कंडोम का उपयोग करने से गर्भधारण नहीं होता इसकी मदद से सुरक्षित सेक्स कर सकते है।कंडोम का उपयोग करने से संक्रमण नहीं होता। सेक्स करने के समय कंडोम का उपयोग करने से सेक्स करने में आसानी हो जाती है। जिन महिलाओं को सूखेपन की कमी होती है,वह अधिक चिकनाई युक्त कंडोम का उपयोग कर चिकनाई की कमी दूर कर सेक्स क्रिया कर सेक्स का सुख प्राप्त कर सकते है। जिन पुरुषो से महिलाये सेक्स के समय खुश नहीं हो पाती सेक्स के समय उत्तेजित नहीं हो पति है। वाइब्रेट कंडोम का उपयोग करने से महिलाओं की योनि में घर्षण करता है कंडोम योनि में कम्पन्न करता है,जिसे महिलाओं की उत्तेजना बढ़ती है। कंडोम का इस्तेमाल सेक्स खिलोनो के साथ भी कर सकते है। कंडोम से सेक्स के आनंद देने के साथ साथ संक्रमण का भी बचाव करता है। जिन महिलाओं के सेक्स के समय योनि में पीड़ा होती है वह चिकनाई युक्त कंडोम का उपयोग कर के अपनी पीड़ा कम कर सकती है चिकनाई वाले कंडोम से सेक्स करने में आसानी होती है और सेक्स का आनंद ले सकते है।

कंडोम के प्रकार?

कंडोम के प्रकार?

बेहतर ढंग से सेक्स करने के लिए और सुरक्षित रहने के लिए कंडोम का उपयोग करना बहुत जरूर होता है|कंडोम कई प्रकार के होते है लोग अपनी इच्छा अनुसार इसका उपयोग कर सकते है। जिन लोगो को सेक्स में कोई कमी लगती है वह सेक्स का आनंद सही तरिके से नहीं ले पाते है।किसी किसी महिला पुरुष में कुछ कमिया हो जाती जिस की वजह से वह सेक्स सुख प्राप्त करने में सफल नहीं हो पाते। कंडोम का इस्तेमाल कर महिला पुरुष अपनी कमी को दूर कर सकते है। कंडोम का उपयोग सेक्स खिलोने के साथ भी कर सकते है कंडोम विभिन्न प्रकार के बाजार में उपलब्ध है जैसे- वाइब्रेट कंडोम, दानेदार कंडोम,साधारण कंडोम, चिकनाईयुक्त कंडोम ,रिब्ड कंडोम, एलोवेरा कंडोम आदि।

साधारण कंडोम

यह बिलकुल साधारण कंडोम होता है यह वीर्य को योनि में जाने से रुकता है।

चिकनाईयुक्त कंडोम

यह महिलाओं के बहुत ही अच्छा कंडोम है और कंडोम के मुताबिक यह अधिक चिनाई युक्त होता है। इसका उपयोग करने से चिकनाई की कमी को दूर करता है जिसे महिला- पुरुष आसानी से सेक्स कर सकते है।

रिब्ड कंडोम

इस कंडोम में महिला की उत्तेजना बढ़ने के लिए बाहरी सतह पर उभरी हुई धारिया होती है जो महिला की योनि में उत्तेजना बढ़ने का काम करती है इसका उपयोग करने से महिला -पुरुष का एक यादगार पल बन जाता है।

अल्ट्राथिन कंडोम

यह अन्य कंडोम के मध्य बहुत ही पतले होते है जिन पुरुषो को कंडोम का उपयोग करना पसंद नहीं होता उन पुरुषो के लिए यह बहुत ही अच्छा अच्छा कंडोम होता यह बहुत ही पतला होता है लिंग पर पहनने के बाद पुरुषो को इसका आभास महसूस नहीं होता है|

बड़े आकार युक्त कंडोम

कई बार कंडोम के छोटे आकर के कंडोम बार बार निकल जाते है या फट जाते है। इस कंडोम आकर काफी बड़ा होता है जिसे निकलने या फटने की समस्या नहीं होती।

फिलेवेर कंडोम

सेक्स के दौरान अगर कमरे में सुगंध बरकरार रहे तोह सेक्स करने आनंद ही कुछ और होता है कंडोम कई तरह के होते है कुछ कंडोम की सुगंध काम होती है तोह कुछ कंडोम सुगंध होती नहीं और कई कंडोम ऐसे है जिमे अलग-अलग सुगंध होती है जैसे चॉकलेट, वनीला, स्टॉबेर्री, बबलगम, बनानां, आदि कई फिलेवेर की सुगंध होती है।सेक्स खिलोनो के साथ कंडोम का उपयोग? सेक्स खिलोनो के साथ कंडोम का उपयोग?

कंडोम का उपयोग करने से सुरक्षित सेक्स करने के साथ -साथ योंन को बढ़ाया जा सकता है। कंडोम चिकनाई की कमी को दूर कर सेक्स क्रिया को आसानी से करने में मदद करता है। खिलोनो का इतिहास बहुत पुरांना है। भारत में सेक्स खिलोने का इस्तेमाल काफी लोग करते है भारत ज्यादातर लोग ऑनलाइन ,इ कॉमर्स साइड् पर खिलोने खरीदते है और कंडोम का उपयोग सेक्स खिलोने के साथ भी कर सकते है सेक्स खिलोने विभिन्न प्रकार के होते है। कुछ खिलोने ऐसे होते है जिन पर कंडोम का उपयोग कर सकते है तो कुछ खिलोने ऐसे होते है जिन पर कंडोम का उपयोग नहीं कर सकते। सेक्स खिलोनो का उपयोग कोई भी कर सकता है सेक्स खिलोने विभिन्न प्रकार के होते है महिलाओं के खिलोने- महिलाये डिलडो, बट प्लग आदि खिलोनो पर लुब्रिकेंट के साथ साथ कंडोम का भी इस्तेमाल कर सकती है। पुरुषो के खिलोने- पुरुष कॉक रिंग और लिंग आस्तीन खिलोनो पर कंडोम का उपयोग कर सकता है। सेक्स खिलोनो पर कंडोम लगाने से सेक्स क्रिया करने में आसानी हो जाती है। सेक्स खिलोनो का उपयोग अकेले व साथी के साथ भी कर सकते है यदि पहली बार सेक्स खिलोनो का उपयोग कर रहे है। तो कंडोम का इस्तेमाल करना चाहिए यह खिलोने चिकना बना देता है,जिससे योनि और गुदा में डालने पर दर्द नहीं होता,सेक्स करने में आसानी हो जाती है। वाइब्रेट छल्ले - कंडोम के छल्ले कंपन लाते हैं लेंकिन वे कंडोम नहीं होते हैं। यौन उत्तेजना को बढ़ाने के लिए कंडोम के साथ इनका उपयोग कर सकते हैं। कॉक रिंग उपयोग करने से सेक्स टाइम में वृद्धि हो सकती है।

कंडोम के फायदे?

रबर के लिंग छल्ले और उनका इस्तेमाल

कंडोम का उपयोग कभी भी कर सकते है। इससे सुरक्षित सेक्स कर सकते है।

जो लोग गर्भधारण होने की समस्या के कारण सेक्स से परहेज करते है वे लोग कंडोम का उपयोग कर बिना किसी डर के सेक्स का आनंद ले सकते है। कंडोम वीर्य को योनि में जाने से रोकता है। जिन महिलाओं को चिकनाई की कमी होती है उनके लिए ख़ास अधिक चिकनाई वाले कंडोम उपलब्ध है जिनका इस्तेमाल कर चिनाई की कमी दूर सेक्स क्रिया कर सेक्स का मजा ले सकते है।

जिन पुरुषो से उनकी महिला साथी सेक्स में खुश नहीं होती उत्तेजित नहीं होती है उनके लिए रिब्ड कंडोम का उपयोग करना बहुत ही अच्छा होता है। यह योनि में जाकर उत्तेजना को तेजी से बढ़ता है, जिससे महिला की उत्तेजना बढ़ती है और वह साथी के साथ सेक्स का सुख प्राप्त करती है। कंडोम का समलैगिंग जोड़े भी कर सकते है| कंडोम का उपयोग गुदा मैथुन करने के समय उपयोग करना बहुत ही फायदेमंद होता है। सेक्स खिलोनो के साथ कंडोम का उपयोग करने से संक्रमण होनेबचाव करता है। कंडोम गर्भावस्था और एसटीडी से सुरक्षा के लिए अच्छा तरीका है।कंडोम का उपयोग कभी भी कर सकते इससे कोई दुस्प्र्भाव नहीं होते है। कंडोम की कीमत ज्यादा नहीं होती काम कीमत में सुरक्षा प्राप्त कर सेक्स का आनंद प्राप्त कर सकते है।

कंडोम का उपयोग करते समय सावधानिया?

कंडोम का उपयोग करते समय सावधानिया?

कंडोम खरीदते समय हमेशा पैकिंग और दिनांक का ध्यान रखना बहुत ही जरुरी होता है। प्रत्येक संभोग के लिए हमेशा एक ताजा व नया लेटेक्स कंडोम उपयोग करें। ऐसे कंडोम का उपयोग ना करें जो असामान्य रूप से चिपचिपा हो या जिसके रंग उडे हुए हों या पुराना हो क्योंकि इस प्रकार के कंडोम संक्रमण से सुरक्षा नहीं देते और इस्तेमाल के दौरान कभी भी फट सकते हैं। इसके पैक पर लिखी निर्माण की तारीख को ज्यादा समय या वर्ष से ना हुए हों। कंडोम को खोलते समय थोडी सी सावधानी बरते पाउच खोलने के लिए दांतो केचि का इस्तेमाल कभी न करें|उसे सावधानी से खोले कोंडोम पर नाख़ून नहीं लगाना चाहिए। कंडोम को लिंग पर पहनने से पहले उलटे सीधे का ध्यान रखे। जिन लोगो चिकनाई की जरुरत होती है,तो अधिक चिकनाई युक्त कंडोम का उपयोग करना भीतर होता है परन्तु कई पार तेल युक्त कंडोम त्वचा में अलेर्जी का कारण बन जाते है तो केवल जल आधारित लुब्रीकेंट का ही उपयोग लाभदायक हो सकता है| स्पर्मिसाइड, ग्लीसरीन, और विशेष रूप से इसी उद्देश्य से बने उत्पाद बेहतर रहते हैं। प्रत्येक बार नए कंडोम का इस्तेमाल करना चाहिए। इस्तेमाल करने के बाद कंडोम को टिशू पेपर या कागज में लपेटकर कर कूड़ा दान में दाल देना चाहिए। पुरुषों के मन में ये भ्रम होता हैं कि कंडोम के प्रयोग से वह सेक्‍स का आनंद नहीं उठा पाएंगे। पुरुषो को अपने मन से यह उन्‍हें भ्रम निकाल देना चाहिए। बल्कि यह सोचना चाहिए कि इसके इस्‍तेमाल से वह कई तरह की बीमारियों, इंफेक्शन और असुरक्षित यौन संबंध से बचें रहेगें।