समलैंगिक महिला यौन खिलौने क्या है? समलैंगिक यौन खिलौने के प्रकार? भारत में सेक्स टॉय अवैध है? सेक्स खिलौने की सिफारिश। भारतीय यौन खिलौने के साथ दैनिक उत्तेजना

समलैंगिक महिला यौन खिलौने क्या है?

> समलैंगिक महिला यौन खिलौने क्या है?

जब दो महिलाये आपस में प्रेम करती है तो जाहिर सी बात है महिलाये एक दूसरे के साथ योंन सम्बन्ध भी बनाती है समलैगिंक महिलाये सेक्स के समय योन खिलोनो का उपयोग कर सेक्स का आनंद ले सकती है। समलैगिंक महिलाये सेक्स खिलोनो के जरिये बिना किसी पुरुष साथी के सेक्स क्रिया कर सकती है सेक्स खिलोने कई प्रकार के होते जिनका उपयोग महिलाये अकेले भी कर सकती है और अपने साथी के साथ भी उपयोग कर सकती है। समलैगिंक महिला एक महिला के प्रति आकर्षित होती है जैसे एक महिला पुरुष होते है। जिस प्रकार महिला पुरुष योन सम्बन्ध बनाते है| उसी प्रकार महिलाये आपस में बिना किसी पुरुष साथी की उपस्तिथि में सेक्स खिलोनो की मदद से सेक्स क्रिया कर एक दूसरे को संतुष्ट कर सकती है। महिलाये सेक्स खिलोनो का उपयोग कर सेक्स क्रिया पुरुषो की तरह ही कर सेक्स का आनंद ले सकती है।सेक्स खिलोने कई तरह के होते है जो पुरुष लिंग खिलोनो का कार्य करते है जैसे डिलडो सेक्स खिलोने वाइब्रेट सेक्स खिलोने सेक्स की उत्तेजना को बढ़ाते है।

समलैंगिक यौन खिलौने के प्रकार

> समलैंगिक यौन खिलौने के प्रकार

सेक्स खिलोने कई प्रकार के होते है जिनका उपयोग महिलाये अकेले भी कर सकती है और साथी के साथ साथी के साथ युगल खिलोनो का उपयोग कर सकते है। महिलाये हस्तमैथुन करते समय भी हस्तमैथुन खिलोनो का उपयोग कर सकती है। महिलाये अकेले में खुद सेक्स का सुख प्राप्त कर सकती है।जिन महिलाओं की सेक्स की इच्छा पूरी नहीं होती उनके लिए सेक्स खिलोनो का उपयोग करना बहुत अच्छा होता है। महिलाओं के लिए ऐसे कई तरह के खिलोने जिनका उपयोग कर वह सेक्स से वंचित नहीं रहे सकती महिलाये गुदा खिलोनो का उपयोग कर सकती है। डिलडो खिलोने कई प्रकार के होते है। वाइब्रेट डिलडो, रेबिट वाइब्रेटर, विशाल डिलडो, छोटे डिलडो स्टेप ऑन डिलडो, डबल डिलडो, पुरुषो के लिए भी कई तरह के खिलोने होते है कॉक रिंग, लिंग आस्तीन, कंडोम मस्टबूटेर, फ्लेश लाइट, आदि

क्या भारत में सेक्स टॉय अवैध है?

क्या भारत में सेक्स टॉय अवैध है?

भारत में सेक्स खिलोने भले ही सेक्स खिलोनो को बेचना खरीदना कानून अपराध है परन्तु सेक्स खिलोने का बाजार बहुत विकसित है। आधुनिक युग में इसके इस्तेमाल में भी तेजी आई है। विकसित देशों में जहां इसका चलन पहले से जोरों पर था, वहीं भारत जैसे देश में भी सेक्स टॉय के इस्तेमाल में तेजी आई है। भारत में सेक्स टॉय के बाजार में तेजी आई है। कई कंपनी ऑनलाइन सेक्स टॉय और सेक्स से जुड़े उत्पादों की विक्रेता है। भारत में कई लोग साथी सें संबंध बनाने की जगह सेक्स खिलोने का इस्तेमाल करना ज्यादा पसंद करते है इसका चलन तेजी से बढ़ा है। ई-कॉमर्स वेबसाइटों पर इन दिनों सेक्स खिलोने बड़ी आसानी से मिल जाते हैं।. महिला पुरुष अपनी जरूरत के सेक्स की क्रिया करने के लिए सेक्स खिलोने खरीदते है। कई लोग अपने साथी के लिए सेक्स खिलोने खरीदते है। भारत में कई ऐसे शहर है जहा सेक्स खिलोने दुकानों पर बेचे जाते है दिल्ली का पालिका बाजार, मुंबई ,हरियाणा आदि| कई शेरो में सेक्स खिलोने दुकानों पर बेचे जाते है। महिला पुरुष अपनी जरूरत के सेक्स की क्रिया करने के लिए सेक्स खिलोने खरीदते है।

समलैंगिक यौन खिलौने का उपयोग कैसे करें?

समलैंगिक यौन खिलौने का उपयोग कैसे करें?

सेक्स खिलोने अलग- अलग प्रकार के होते है जिनका उपयोग भी अलग अलग तरिके से होता है जो दो महिलाये आपस में सेक्स करती है तो सेक्स खिलोनो का उपयोग कर वह सेक्स का आनंद बढ़ा सकती है। महिलाये डिलडो खिलोनो का उपयोग कर सकती है डिलडो खिलोने लिंग के आकर का ही होता है जिसका उपयोग एक दूसरे की योनि में डालकर सेक्स क्रिया कर सकती है। डबल डाँग डिलडो इसका उपयोग दोनों महिलाये एक साथ कर सकती हैदबदल डाँग डिलडो दोनों तरफ डिलडो होते है जिसे दो मुँह डिलडो भी बोल सकते है दो महिलाये इसे एक साथ अपनी योनि या गुदा में डाल सकती है| यह एक साथ सेक्स क्रिया करने के लिए अच्छा सेक्स खिलौना है। स्टेप ऑन डिलडो समलैगिंक महिलाओं के बहुत ही अच्छा सेक्स खिलौना है, इसका उपयोग बिलकुल पुरुष की तरह ही कर सकते है स्टेप ऑन डिलडो में एक बेल्ट बंधा हुआ होता है, जिसे महिलाये अपनी कमर में बाँध कर पुरुष के तरह महिला के साथ सेक्स क्रिया कर सकती है| सेक्स खिलोनो महिलाओं को सेक्स का आनंद लेने के कारागार साबित हुए है। महिलाये पुरुष साथी की अनुपस्थि में सेक्स खिलोनो का उपयोग कर पुरुष की तरह सेक्स का मज़ा ले सकती है सेक्स खिलौनें संभोग सुख प्राप्त करने में सक्षम होते है।कुछ महिलाएं स्वयं को सेक्स खिलौनों की सहायता से हस्तमैथुन के लिए उत्तेजित करती है।महिलाएं उत्तेजना सुख पाने के लिए स्नेहक या लुब्रिकेंट का उपयोग ले सकती है।

समलैंगिक सेक्स खिलौने की सिफारिश?

इंसान की सेक्स में दिलचस्पी की कई वजहें होती हैं| इंसानों के बीच कई तरह से रिश्ते बनते हैं| यूं तो आज के दौर में होमोसेक्शुआलिटी को बहुत से समाजों में मान्यता मिलने लगी है| मगर एक दौर ऐसा भी था जब समलैंगिकता को नफ़रत की नज़र से देखा जाता था. इसे क़ुदरती नहीं माना जाता था.परन्तु अब समलैगिंकता समाज में मान्यता दे दी गयी है। समलैगिंग महिला या पुरुष जोड़े योन सम्बन्ध बनाने के लिए सेक्स खिलोनो का उपयोग कर सकते है।सेक्स खिलोनो के प्रति उनका आकर्षण काफी बढ़ने लग गया है।समलैगिंक जोड़े अपनी सेक्स की इच्छा को सेक्स खिलोनो के जरिये पूरी कर सकते है।समलैगिंक महिला सेक्स बिना किसी पुरुष की उपस्तिथि में महिला साथी के साथ सेक्स क्रिया कर सकती है जिस प्रकार पुरुष महिला के साथ सेक्स क्रिया करता है उसी प्रकार महिलाये सेक्स खिलौंनो की मदद सेक्स महिल के साथ पुरुष की तरह सेक्स कर सकती है सेक्स का सुख दे सकती है। आज कल समलैगिंक जोड़ो सेक्स खिलोनो की सिफारिश काफी करने लग गए सेक्स खिलोने उनकी सेक्स की जरूरतों को पूरा करने में कामयाब साबित हुए जिसे समलैगिंक जोड़े काफी आकर्षित हुए है उनकी सेक्स खिलोनो के प्रति काफी रूचि बढ़ती दिखाई दे रही है।

समलैंगिक सेक्स खिलौने के फायदे ?

समलैंगिक सेक्स खिलौने के फायदे ?

सेक्स के प्रति खुद को जागरूक करने के लिए सेक्स खिलौने बहुत फायदेमंद होता है। इसका इस्तेमाल करने के बाद ही व्यक्ति को यह पता चलता है कि पुरुष के छूने या उनके गुप्तांग से अपने शरीर की कौन सी जगह कितनी देर छूने पर उत्तेजना होती है। सेक्स खिलौने साथी की भूमिका अदा करता है और स्वयं अपने तरीके से सेक्स करने में मदद करता है इससे अंदर छिपी चीजें बाहर निकलती हैं और सेक्स के बारे में अपने आप जानकारी हो जाती है।सभी तरह की मानसिक समस्याओं में तनाव एक मुख्य मानसिक समस्या है। तनाव तो आमतौर पर सभी लोगों को होता है लेकिन सेक्स खिलोने का इस्तेमाल करके सेक्स का आनंद लेने से तनाव कम हो जाता है और मानसिक स्वास्थ्य ठीक रहता है। स्टडी में भी पाया गया है कि मानसिक समस्याओं को दूर करने में सेक्स खिलौने बहुत फायदेमंद होता है।सेक्स खिलौने आर्टिफिशियल उपकरण है इसलिए इससे सेक्स करने का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि व्यक्ति को ऑर्गेज्म भी मिल जाता है और उसे यौन संचारित बीमारियां भी नहीं होती हैं। इसलिए बिना किसी टेंशन के सेक्स खिलौने से सेक्स करने का आनंद लिया जा सकता है। इसके अलावा कई सेक्स खिलोने ऐसे भी होते है जिनका उपयोग एक साथ कर सकते जिसे दो महिलाये एक साथ सेक्स का आनंद ले सकती है। समलैगिंक महिलाओं के पास कोई पुरुष नहीं होता वह सेक्स खिलोनो की मदद से पुरुष की कमी को पूरा कर सेक्स क्रिया का आनंद लेती है।